Site Hits : 1681860

Domain Skilling - General

Domain skilling is the training imparted to skill the fresh workforce entrants without any prior skill development experience through domain specific demand led skill training activity leading to employment or any outcome oriented activity that enables a participant to acquire a Skill, duly assessed and certified by an independent third party agency or an agency of national or state repute approved by competent authority, and which enables him/her to get wage/self-employment leading to increased earnings and sustained livelihood generation.

Candidate in the working age group of 15-59 Years who are interested in taking domain skilling and fulfil the minimum qualification criteria of the course chosen.

The trainees will be registered on the BSDM portal post mobilization through any of the following modes:

  • Self-registration by the interested Candidates
  • Candidate mobilization done by the respective departments or Government training providers (GTPs)
  • Candidates mobilized by the SDCs

The registration for beneficiaries / trainees is yet to commence. A notification on account of the beneficiary registration commencement will be published on skillmissionbihar.org in due course of time.

QP-NOS / Bihar Board of Open Schooling Examination (BBOSE) Board / National Institute of Open Schooling (NIOS) / Indira Gandhi National Open University (IGNOU) / Any other course approved by BSDM. Initially, only the QP/NOS based courses will be offered under domain skilling programme.

For details of the courses covered under domain skilling view the "Courses under Domain Skilling" Sub menu under the "Domain Skilling" Tab on the "skillmissionbihar.org" home page.

Skill Development Centers (SDCs): Skill Development Centers (SDCs) who have requisite generic and course specific infrastructure will be empanelled through online registration process for the domain skilling to offer training to the youth in any of the domain specific courses.

For details of the schemes covered under domain skilling view the "Schemes under Domain Skilling" sub menu under the "Domain Skilling" Tab on the "skillmissionbihar.org" home page.

There are 15 Department of Government of Bihar that have different schemes / initiatives in the skill development space. The departments will be allotting the work to the empaneled SDCs as per their requirement in consultation with BSDM.

For more details on the various stakeholders and the Government of Bihar departments involved in domain skilling view the "Stakeholders Interaction" Sub menu under the "Domain Skilling" Tab on the "skillmissionbihar.org" home page.

Assessment

  • QP/NOS based courses – SSC’s appointed assessment agencies
  • Other than QP Based course – BBOSE, BSDM or any other BSDM approved organization of state / national repute.
  • Government Training Providers of National or State repute might be able to do assessments of their training post approval from BSDM.
  • For courses proposed under Industry Led domain skilling the assessment will be done by the Industry or BSDM or jointly by BSDM and the industry

Certification

  • QP/NOS based courses – Respective Sector Skill Councils (SSCs)
  • Other than QP Based course – BBOSE, BSDM or any other BSDM approved organization of state / national repute.
  • Government Training Providers of National or State repute can certify their successfully trained candidates post approval from BSDM.
  • For Industry initiated domain skilling there will be a provision of self-certification (By the Industry Player) or joint certification (Industry Player & BSDM)

Domain specific skilling : 10% of the total training fee (as paid to the SDC) per learner (to be paid to BSDM through the SDC operator) up to a max of INR 1000 will be taken as refundable security deposit from candidates. This shall be refunded if the candidate is successfully certified, but shall be seized if the candidate drops out or fails the assessment.

Exemption on this account may be provided for severely disadvantaged groups such as:

  • Beggars and their dependents
  • Leprosy cured and their dependents
  • Construction workers
  • HIV patients and their dependents
  • Jail Inmates
  • School Children currently enrolled and pursuing formal education.

Note: The list of applicable categories for the exemption may be revised as and when deemed required by BSDM or as directed by the State Government.

Training Fee per candidate per hour:

Domain skilling

  • Category 1: INR 39.9 per candidate per course per hour
  • Category 2: INR 34.2 per candidate per course per hour
  • Category 3: INR 28.4 per candidate per course per hour

The above costs are applicable for FY 2016 -17.

The training cost will increase by 5-10% as deemed fit by BSDM every Financial year coming in effect from 1st of April of the subsequent years or as notified by BSDM.

In case of domain skilling (where training delivery is through LMS): A per candidate per course portal usage fee (against using the portal and digital content for actual training delivery) shall be decided and accordingly deducted from the amount payable to the SDC operators or will be charged in case of candidate paid models, as and when BSDM acquires the right to use such digital contents. This shall be communicated to SDCs separately.

Note:

  1. The cost category for each of the 74 courses is mentioned under the “Courses under Domain Skilling” menu. Click on the respective course for details.

Release of Training Fee for the Domain skilling:

For Domain skilling – Fresh Skilling

  • No advance payment
  • 30% of the training fee – On completion of 1/3rd of the duration of the course or 1 month whichever is later for all the candidates with attendance equal to at least 80% against the covered duration of the course (in hours).
  • 50% of the training fee – On passing the final assessment by the BSDM authorized assessment & certification agency – for the passed candidates only, post adjustment of the 30% (paid earlier) for candidates who did not pass the assessment.
  • 10% of the training fee – For all the certified candidates after a minimum of 50% of the batch has been placed.
  • 10% of the training fee - This amount will be paid post the 12 month tracking completion and compliance.

Note: If the payment to the SDC is not made within 30 days of raising the invoice, where no further information is wanted from the SDC, the disbursing department / organization shall be liable to pay simple interest on the due payment at a rate of 0.5 % per month till the time actual payment is made.

Placement Mandate:

  • All the schemes following BSDM guidelines will have to ensure a minimum of 50 % placement including self-employment. The breakup of placement percentage for wage and self-employment can be decided by the implementing department as per the nature of the course and their target group inclinations.

Placement Definition:

Placements to be mandatorily done in 3 months from result declaration date. Placements by definition would mean that the placed candidate has joined the offered job and is in employment for the next 3 months at least. Placements can be in the form of wage employment or self-employment.

In case of wage employment, candidates should be placed in jobs that provide wages at least equal to minimum wages prescribed by the State where the deployment is done post recruitment and such candidates should continue to be in jobs for a minimum period of three months, from the date of placement in the same or a higher level with the same or any other employer.

In case of self-employment, candidates should have been employed gainfully in livelihood enhancement occupations which are evidenced in terms of trade license or setting up of an enterprise or becoming a member of a producer group and proof of additional earnings (bank statement) or any other suitable and verifiable document as prescribed by BSDM / respective Ministry or Department.

To be paid by the respective Departments directly to the assessment agency

  • For QP/NOS courses – INR 600- 1500 as per the prevalent course / SSC assessment rate
  • For Non-MES and Non-QP based courses the assessment fee payable will be INR 800 to be revised from time to time by BSDM.

Yes there are other cost heads for the SDCs such as:

  1. Boarding and lodging cost at actuals for residential training subject to maximum per trainee per day as per table below:
    • Rs. 250/- per day per trainee in Patna municipal corporation limits.
    • Rs. 200/- per day per trainee in other municipal corporations / municipal board limits.
    • Rs. 175/- per day per trainee in all other areas including nagar panchayats

    Note: A minimum training duration of 8 hours per day will be assumed for calculation of total number of days for which boarding and lodging amount will be provided.

  2. In case of residential training one time transportation charges will be provided at actuals (To be paid directly to the candidates through their bank account) subject to a maximum amount of INR 1000.

  3. Career Progression @ INR 5000 per candidate (for every candidate who gets Rs 15,000 per month and holds the job for at least 3 consecutive months within the 1 year tracking period).

    Note: Applicable for candidates with wage employment. This component will be paid for all the candidates who receive a salary of INR 15000 for at least 3 consecutive months within the 1 year tracking period.

  4. Counselling support of INR 10000 per candidate including medical check-up for candidates placed in Foreign countries.

    Note: Applicable for candidates with wage employment. The invoice for this amount will be raised for the candidates who have got overseas deployment and have completed at least 3 months in the job post deployment.

  5. Placement Incentive
    • If the batch wage employment placement rate is 70 to 85 % placement incentive will be – INR 3000 per candidate for all the certified candidates who are placed in wage employment.
    • If the batch wage employment placement rate is more than 85 % placement incentive will be – INR 5000 per candidate for all the certified candidates who are placed in wage employment.
  1. Stipend
    No provision for stipend for schemes following BSDM guidelines except for severely disadvantaged groups.

    • Beggars - INR 100 / day
    • Leprosy cured and their dependents - INR 30 / day subject to maximum of INR 800 / month
    • Construction workers registered with BoCW board - As per unskilled construction labourers minimum daily wage rate prescribed by the State Government i.e. currently - INR 206 / day
    • HIV / AIDS patients - INR 30 / day subject to maximum of INR 800 / month

    Note:
    • A minimum training duration of 8 hours per day will be assumed for calculation of total number of days for which stipend amount will be provided.
    • Any candidate who is availing the self-help allowance will not be eligible for the stipend even if he falls under any of the above severely disadvantaged groups.
    • The list of applicable categories and the respective rates for the provision of stipend may be revised as and when deemed required by BSDM or as and when directed by the State Government.
  2. Post-placement support (PPS)
    In order to enable the newly skilled persons from Special Areas (In context of Bihar: Left Wing Extremists (LWE) as per the Home Ministry notification) / Groups (Would comprise of Women, PwD candidates) to settle into their new jobs/vocations under wage employment, post placement support would be provided directly to the candidate at the rate of Rs 1500/- per month for the following durations:

    • Placement within District of domicile – 1 month for Men, 2 months for Women
    • Placement outside District of domicile – 2 month for Men, 3 months for Women



Domain Sklling - SDC Registration

Any Proprietor / Partnership / Society / Trust / Cooperative Society / Public & Private Ltd. Co. / Government institute can apply to register their center as an SDC for domain skilling.

For detailed requirements to set up a SDC please refer to "Required Documents" & "Infrastructure Requirements" sub-menus. For course specific equipment requirements please refer to the "Courses under Domain Skilling" sub-menu.
For detailed SDC registration process, please refer to "SDC Registration Process" and "User Manual".

The first phase of registration will start soon. Dates will be shortly notified. However, the registration shall be made open from time to time, as and when the need arises for all or specific courses.
For more details on important dates, refer the "Activity Schedule" menu

At the time of application, the AO has to deposit INR 500 per center as processing fee, INR 3000 per center as center registration fee and INR 1000 per course chosen as course affiliation fee for getting their SDC registered for imparting training in the selected courses. For norms related to refund and renewal please refer to "Registration Fee Structure" and "Important Instructions" sub-menus.

For payment modes refer to the "Registration Fee Structure" and "Payment Process" menus.

The DD shall be in favour of "Bihar Skill Development Mission", payable at Patna

Training under the various domain skilling programs is envisaged to commence as soon as the first phase empanelment / registration process of SDC is completed.

डोमेन स्कीलिंग

डोमेन स्कीलिंग श्रम बाजार में प्रवेश कर रहे वैसे कार्य बल जिन्हें कोई कौशल अनुभव नहीं है, को कौशल विशिष्ट माँग आधारित किसी भी परिणाम उन्मुख गतिविधि में कौशल हासिल करने के लिये सक्षम बनाता है। इसके लाभार्थी को राष्ट्रीय अथवा राज्य ख्याति प्राप्त संस्थानों या तृतीय पक्ष मूल्यांकन तथा प्रमाणीकरण कर सक्षम बनाया जाता है तथा यह उनके मजदूरी/स्वरोजगार में वृद्धि एवं सतत आजीविका सृजन में सहायक होता है।

ईच्छुक 15-59 वर्ष के उम्र समूह के अभ्यर्थी जो चयनित पाठ्यक्रम की अहत्र्ता को पूरा करते हों एवं इसके लिये इच्छुक हों ।

प्रशिक्षणार्थियों का पंजीयन बिहार कौशल विकास मिशन के पोर्टल पर निम्न माध्यम से होगाः-

  • ईच्छुक अभ्यर्थियों द्वारा स्वपंजीकरण
  • उम्मीदवारों का संग्रहण ;उवइपसप्रंजपवदद्ध संबंधित विभाग अथवा सरकारी प्रशिक्षण प्रदाता
  • एजेन्सी द्वारा किया जायेंगा तथा उनके द्वारा पंजीयन किया जायेगा।
  • कौशल प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी द्वारा उम्मीदवारों का संग्रहण ;उवइपसप्रंजपवदद्ध कर पंजीयन किया जायेगा।
  • अभी उम्मीदवारों का पंजीयन प्रारंभ नहीं हुआ है । प्रारंभ होने पर इसकी सूचना इस वेबसाइट तथा अन्य माध्यमों से दी जायेगी ।

QP-NOS / बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड/राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान/इंदिरा गाँधी मुक्त विश्वविद्यालय/बिहार कौशल विकास मिशन से अनुमोदित कोई और पाठ्यक्रम। वर्तमान में अभी QP-NOS आधारित पाठ्यक्रम में ही प्रशिक्षण प्रारम्भ किया जायेगा।

बिहार कौशल विकास मिशन के पोर्टल पर आनलाइन माध्यम से सूचीबद्ध कौशल प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी जिनके पास प्रशिक्षण हेतु आधारभूत संरचना तथा आवश्यक संसाधन उपलब्ध है ।

विस्तृत जानकारी हेतु "skillmissionbihar.org" के क्वउंपद Domain Skilling Tab का उप मेनू Schemes under Domain Skilling देखें। इसमें राज्य के सभी विभागों द्वारा चल रही योजनाओं की सूची दी गई है ।

राज्य के कौशल उन्नयन से संबद्ध 15 विभिन्न विभागों में कौशल उन्नयन की विभिन्न योजनाएँ कार्यान्वित हैं। सूचीबद्ध प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सियों को कार्य संबंधित विभाग द्वारा बिहार कौशल विकास मिशन के परामर्श से आवंटित किया जायेगा।

डोमेन स्कीलिंग में संलग्न राज्य सरकार के विभिन्न विभागों तथा अन्य भागीदारों के संबंध में विवरण के लिये "Domain Skilling" टैब के सब मेनू Stakeholders Interaction देखें ।

मूल्यांकन

  • QP-NOS पाठ्यक्रम - सेक्टर स्कील काउन्सिल द्वारा नियुक्त मूल्यांकन एजेन्सी
  • QP-NOS के अतिरिक्त पाठ्यक्रम-
    • बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड/बिहार कौशल विकास मिशन
    • बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा अनुमोदित राष्ट्रीय/राज्य ख्याति प्राप्त एजेन्सी
    • बिहार कौशल विकास मिशन से पूर्वानुमति के उपरान्त राष्ट्रीय/राज्य स्तरीय ख्याति प्राप्त सरकारी प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी
    • उद्योग आधारित डोमेन स्कीलिंग पाठयक्रमों का मूल्यांकन औद्योगिक प्रतिष्ठान या बिहार कौशल विकास मिशन या औद्योगिक प्रतिष्ठान एवं बिहार कौशल विकास मिशन संयुक्त रूप से।

प्रमाणीकरण:-

  • QP-NOS पाठ्यक्रम - संबंधित सेक्टर स्कील काउन्सिल ।
  • QP-NOS के अतिरिक्त पाठ्यक्रम-
    • बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड/बिहार कौशल विकास मिशन
    • बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा अनुमोदित राष्ट्रीय/ राज्य ख्याति प्राप्त एजेन्सी
    • बिहार कौशल विकास मिशन से पूर्वानुमति के उपरान्त राष्ट्रीय/राज्य स्तरीय ख्याति प्राप्त सरकारी प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी
    • उद्योग आधारित डोमेन स्कीलिंग पाठयक्रमों का प्रमाणीकरण औद्योगिक प्रतिष्ठान या बिहार कौशल विकास मिशन या औद्योगिक प्रतिष्ठान एवं बिहार कौशल विकास मिशन संयुक्त रूप से।
  • प्रशिक्षण निःशुल्क है परंतु प्रशिक्षणार्थियों को अग्रधन के रूप में पाठ्यक्रम फीस की 10% राशि (अधिकतम 1000/-) रूपया प्रशिक्षण प्रदाता संस्था के माध्यम से बिहार कौशल विकास मिशन को जमा करना होगा । सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूर्ण होने की स्थिति तथा प्रमाणीकरण हो जाने की स्थिति में यह राशि वापस हो जायेगी । बीच अवधि में प्रशिक्षण छोड़ने या प्रमाणीकरण नहीं होने की स्थिति में यह राशि जब्त कर ली जायेगी ।
  • निम्नलिखित समाज के वंचित समूहों को छूट दिया जा सकता हैः-
    • भिखारी और उनके आश्रित
    • कुष्ठ रोग से ठीक एवं उनके आश्रित
    • निर्माण श्रमिक
    • एच0 आई0 वी0 रोगियों एवं उनके आश्रित
    • जेल के कैदियों
    • वर्तमान में दाखिला प्राप्त विद्यालय के बच्चे जिनका लक्ष्य औपचारिक शिक्षा हो।

नोटः- राज्य सरकार के परामर्श/दिशा-निर्देश के आलोक में बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा वंचित समूहों की सूची में परिवर्तन किया जा सकता है।

  • कैटेगरी 1 - रू0 39.90 प्रति प्रशिक्षणार्थी प्रति पाठ्यक्रम प्रति घंटा
  • कैटेगरी 2 - रू0 34.20 प्रति प्रशिक्षणार्थी प्रति पाठ्यक्रम प्रति घंटा
  • कैटेगरी 3 - रू0 28.40 प्रति प्रशिक्षणार्थी प्रति पाठ्यक्रम प्रति घंटा

उपर्युक्त दर वित्तीय वर्ष 2016-17 से प्रभावी होगा। प्रशिक्षण शुल्क में प्रतिवर्ष 5-10% की वृद्धि बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा संसूचन के उपरान्त हो सकेगी।

डोमेन स्कीलिंग जहाँ प्रशिक्षण में स्डै उपयोग होगा

पोर्टल के उपयोग के लिये निर्धारित शुल्क प्रति प्रशिक्षणार्थी प्रति पाठ्यक्रम (वास्तविक प्रशिक्षण के लिये पोर्टल उपयोग एवं डिजीटल पाठ्यक्रम सामग्री उपयोग के लिये) प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी के भुगतेय राशि से काट लिया जायेगा। अभ्यर्थी भुगतान माॅडल में निर्धारित राशि अभ्यर्थी से लिया जायेगा।

यह निर्धारित शुल्क प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी को अलग से संसूचित किया जायेगा। नोटः- 74 पाठ्यक्रमों में प्रत्येक के लिये देय राशि हेतु वर्गीकरण Courses under Domain Skilling मेनू में उल्लेखित है। इसके लिये संबंधित कोर्स पर क्लिक करें ।

डोमेन स्कीलिंग के लिये -

  • कोई अग्रिम भुगतान नहीं।
  • 30 प्रतिशत प्रशिक्षण शुल्क - वैसे सभी प्रशिक्षणार्थियों के लिये जिनकी उपस्थिति पाठ्यक्रम अवधि के लिये कम से कम 80 प्रतिशत हो, को पाठ्यक्रम अवधि के 1/3 या 1 माह पूरा होने पर जो भी बाद में हो।
  • 50 प्रतिशत प्रशिक्षण शुल्क - बिहार कौशल विकास मिशन द्वारा प्राधिकृत मूल्यांकन एवं प्रमाणीकरण एजेन्सी के माध्यम से केवल उत्तीर्ण प्रशिक्षणार्थियों के लिये पूर्व में भुगतान किये गये 30 प्रतिशत राशि समायोजन के उपरान्त
  • 10 प्रतिशत प्रशिक्षण शुल्क - प्रशिक्षणार्थियों के बैच के सभी प्रमाणीकृत अभ्यर्थियों के 50 प्रतिशत के नियोजन के उपरान्त ।
  • 10 प्रतिशत प्रशिक्षण शुल्क- नियोजित अभ्यर्थियों के 12 माह के ट्रेकिंग पूरा करने एवं अन्य प्रक्रियाओं के अनुपालन के पश्चात ।

नोटः- प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सियों द्वारा उनके विपत्र समर्पित करने के 30 दिनों के अंदर संबंधित विभाग द्वारा भुगतान अनिवार्य होगा। निर्धारित अवधि के अन्तर्गत भुगतान नहीं किये जाने पर संबंधित विभाग को 0.5 प्रतिशत सामान्य ब्याज की दर से प्रतिमाह राशि भुगतान करना होगा बशर्तें कि प्रशिक्षण प्रदाता एजेन्सी से कोई जानकारी/कागजात वांछित न हों।

प्लेसमेन्ट जनादेश

  • सभी योजनायें जो बिहार कौशल विकास मिशन के मार्गदर्शिका से आच्दादित हैं उन्हें स्वरोजगार सहित न्यूनतम 50 प्रतिशत प्लेसमेन्ट सुनिष्चित करना होगा। मजदूरी और स्वरोजगार के लिये प्लेसमेन्ट प्रतिशत का निर्धारण संबंधित विभाग द्वारा पाठ्यक्रम की प्रकृति एवं उनके वांछित समूह के झुकाव के आधार पर किया जायेगा।

प्लेसमेन्ट की परिभाषा

प्रशिक्षणार्थियों के परीक्षाफल घोषणा के तीन माह के अन्तर्गत प्लेसमेन्ट करना अनिवार्य होगा। प्लेसमेन्ट का मतलब होगा कि उम्मीदवार ने पेश की गई नौकरी में योगदान कर लिया हो तथा लगातार न्यूनतम 3 माह तक अपने कर्तव्य पर उपस्थित रहा हो। प्लेसमेन्ट मजदूरी या स्वरोजगार के रूप में हो सकता है।

मजदूरी रोजगार

प्रशिक्षणार्थियों का नियोजन ऐसी जगह होना चाहिये जहाँ उसे संबंधित राज्य सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी से कम भुगतान नहीे हो। अभ्यर्थी उस नियोजन अथवा उच्चतर नियोजन में मूल या किसी अन्य नियोजक के साथ में योगदान की तिथि से न्यूनतम तीन माह तक रहना चाहिये।

स्व नियोजन की स्थिति

उम्मीदवार का जीविका वृद्धि व्यवसायों में लाभप्रद रोजगार होना चाहिये जिनके पास सबूत के तौर पर व्यापार लाईसेंस, उद्वम की स्थापना या एक निर्माता समूह का सदस्य तथा अतिरिक्त आय के प्रमाण के रूप में (बैंक स्टेटमेन्ट) या, बिहार कौशल विकास मिशन/संबंधित विभाग/मंत्रालय द्वारा विहित अन्य उपयुक्त और निरीक्षण योग्य साक्ष्य।

संबंधित विभाग द्वारा मूल्यांकन एजेन्सी को भुगतान किया जायेगा ।

  • QP/NOS पाठ्यक्रम के लिये- रू0 600-1500(कोर्स के अनुरूप SSC मूल्यांकन दर)
  • QP/NOS/MES कोर्स के अतिरिक्त के लिये- रू0 800/-

मूल्यांकन शुल्क समय-समय पर बिहार कौशल विाकस मिशन अथवा सक्षम प्राधिकार द्वारा संशोधित किया जा सकेगा।

हाँ। कौशल विकास केन्द्र के लिये अन्य देय लागत निम्न हैः-

  1. बोर्डिंग एवं आवासीय काॅस्टः- आवासीय प्रशिक्षण हेतु वास्तविक लागत अधिकतमप्रति
    प्रशिक्षणार्थी प्रति दिन निम्न तालिकानुसार देय होगा-
    • रू0 250=00 प्रति दिन प्रति प्रशिक्षणार्थी (पटना नगर निगम के लिये)
    • रू0 200=00 प्रति दिन प्रति प्रशिक्षणार्थी (अन्य नगर निगम एवं नगर परिषद क्षेत्र में)
    • रू0 175=00 प्रति दिन प्रति प्रशिक्षणार्थी (अन्य सभी क्षेत्र, नगर पंचायत सहित)

    बोर्डिंग एवं लाॅजिंग शुल्क गणना के लिये प्रति दिन 8 घंटे का प्रशिक्षण माना जायेगा।

  2. आवासीय प्रशिक्षण की स्थिति में-
    प्रशिक्षणार्थियों को उनके बैंक खाते में एक बार प्रशिक्षण केन्द्र तक आने जाने के लिये यात्रा शुल्क के रूप में वास्तविक राशि अधिकतम रू0 1000=00 देय होगा।

  3. कैरियर प्रोग्रेशन - रू0 5000=00 प्रति अभ्यर्थी (एक वर्ष के ट्रैकिंग काल में लगातार 3 महीने तक 15000=00 प्रति माह वेतन पाने वाले प्रत्येक अभ्यर्थी के लिये देय होगा).

    नोटः- यह प्रोत्साहन राशि सिर्फ वेतनमान वाले अभ्यर्थी के लिये देय होगा अर्थात् स्वरोजगार के लिये देय नहीं होगा ।

  4. काउन्सिंलग सहायता विदेशों में नियोजित अभ्यर्थियों के लिये रू0 10000=00 प्रति अभ्यर्थी चिकित्सा जाँच सहित।

    नोटः- वेतनमान पर विदेशों में नियोजित अभ्यर्थी जो योगदान की तिथि से लगातार तीन माह तक नियोजित रहेंगे उन्हीं अभ्यर्थियों के लिये राशि देय होगा ।

  5. प्लेसमेन्ट के लिये प्रोत्साहन
    • अगर बैच वेतनमान प्लेसमेन्ट दर 70-80% है तो सभी प्रमाणीकृत अभ्यर्थियोंजिनका नियोजन वेतनमान पर हुआ है उनके लिये रू0 3000=00 प्रति अभ्यर्थी प्लेसमेन्ट प्रोत्साहन राशि देय होगा।
    • अगर बैच वेतनमान प्लेसमेन्ट दर 85% से अधिक है तो सभी प्रमाणीकृत अभ्यर्थियों जिनका नियोजन वेतनमान पर हुआ है उनके लिये रू0 5000=00 प्रति अभ्यर्थी प्लेसमेन्ट प्रोत्साहन राशि देय होगा।
  1. छात्रवृत्ति
    निम्नलिखित समूहों को छोड़कर बिहार कौशल विकास मिशन के निर्देशों का पालन करने वाली योजनाओं के लिये कोई छात्रवृत्ति देय नहीं है।

    • भिखारी - रू0 100=00 प्रतिदिन
    • कुष्ठ रोग से ठीक तथा उनके आश्रित - रू0 30=00 प्रतिदिन, अधिकतम रू0 800=00 प्रतिमाह
    • BOCW के पंजीकृत निर्माण श्रमिक एवं उनके आश्रित - राज्य सरकार द्वारानिर्धारित अकुशल श्रमिक की न्यूनतम प्रतिदिन मजदूरी वर्तमान में रू0206=00प्रतिदिन ।
    • एच0 आई0 वी0/एडस रोगी - रू0 30 प्रतिदिन अधिकतम रू0 800=00 प्रतिमाह

    नोटः-
    • जहाँ छात्रवृत्ति देय होगा वहाँ न्यूनतम 8 घंटा प्रतिदिन प्रशिक्षण अवधि के अनुसार प्रशिक्षण दिवस की गणना की जायेगी।
    • वंचित समूह के वैसे अभ्यर्थी जो राज्य सरकार की योजना स्वयं सहायता भत्ता का लाभ ले रहे होंगे उन्हें छात्रवृत्ति का लाभ नहीं दिया जायेगा ।
    • बिहार कौशल विकास मिशन अथवा राज्य सरकार द्वारा जब और जैसे आवश्यकता महसूस की जायेगी वंचित सूची एवं स्टाईपेण्ड के दर में परिवर्तन किया जा सकेगा ।
  2. पोस्ट प्लेसमेन्ट सहायता नवकुशल लाभार्थियों को सक्षम करने के लिये विशेष क्षेत्र वामपंथी उग्रवाद प्रभावित ;स्ॅम्द्ध (गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा निर्गत अधिसूचना के आधार पर अधिसूचित), महिला तथा विकलांगों को पोस्ट प्लेसमेन्ट सहायता के रूप में 1500=00 प्रतिमाह
    निम्नलिखित अवधि के लिये देय होगाः-

    • अधिवास जिला के अन्तर्गत प्लेसमेन्ट – पुरूष को एक माह, महिला को दो माह
    • अधिवास जिला के बाहर प्लेसमेन्ट – पुरूष को दो माह, महिला को तीन माह



डोमेन स्किलिंग हेतु कौशल विकास केन्द्र का पंजीकरण- एफएक्यू

कोई स्वामित्व/साझादारी/सोसायटी/ट्रस्ट/सहकारी समिति/सार्वजनिक एवं निजी लिमिटेड कम्पनी/सरकारी संस्था डोमेन कौशल विाकस केन्द्र के रूप में पंजीयन करा सकते हैं।

पंजीकरण ऑनलाइन माध्यम से किया जा सकता है । विस्तृत जानकारी हेतु- कृपया हमारे वेबसाईट skillmissionbihar.org के क्वउंपद "Domain Skilling Tab" के Submit document & "Infrastructure" को देखें। पाठ्यक्रम विशिष्ट उपकरण सूची हेतु उप मेनू "Course" देखें। डोमेन कौशल प्रशिक्षण केन्द्र पंजीयन की विशेष जानकारी हेतु कृपया "SDC Registration Process" तथा "User Manual" टैब देखें।

प्रथम चरण का पंजीयन दिनांक-10.09.16 से प्रारम्भ है जिसकी अंतिम तिथि 25.09.16 है। समय-समय पर माँग, पाठ्यक्रम विशिष्ट एवं आवश्यकतानुरूप पंजीयन प्रारम्भ किया जा सकता है।

हाँ। पंजीयन के समय आवेदक को प्रोसेसिंग फी रू0 500=00 प्रति केन्द्र, केन्द्र पंजीयन शुल्क रू03000=00 प्रति कोर्स तथा पाठ्यक्रम संबंधन शुल्क रू0 1000=00 प्रति पाठ्यक्रम (आवेदक द्वारा प्रशिक्षण हेतु चयनित पाठ्यक्रम के लिये) शुल्क वापसी एवं नवीकरण मानदण्डों के लिये कृपया Registration Fee Structure तथा Important Instructions Sub menus देखें।

कृपया भुगतान प्रक्रिया हेतु Registration Fee structure तथा "Payment Process" मेनू देखें।

डिमान्ड ड्राफ्ट “बिहार कौशल विकास मिशन” के नाम से पटना में भुगतेय होगा।

प्रथम चरण के पंजीयन के उपरान्त शीघ्र प्रशिक्षण प्रारम्भ करने की परिकल्पना है।

Join the course of your choice

View Courses